अलमारी बिजनेस : Steel almirah Making Business

अलमारी बिजनेस Steel almirah Business

अलमारी बिजनेस Steel almirah Making Business

आलमारी (almirah) की आवश्यकता हर घरों में होती है इसलिए अलमारी मैकिंग बिजनेस (Steel almirah Making Business) को शुरू करना काफी फायदेमंद वाला बिजनेस हो गया है. यदि आपको अलमारी almirah बनानी आती है तो आप इस कारोबार को काफी अच्छी तरीके से कर सकते हैं. यदि अलमारी मैकिंग नहीं कर सकते है तो आलमारी almirah तैयार करने वाले ट्रेंड कारीगरों को रख कर इस काम को शुरू कर सकते हैं. आजकल इसके कारीगर भी मिलना मुश्किल नहीं है क्योंकि आईटीआई के अनेक लड़के ऐसे काम की तलाश में रहते है. अच्छे कारीगरों की तलाश के लिए आप लोकल पेपर में एड दे सकते है.

वरूण कुमार तिवारी ने वेल्डिंग से आईटीआई किया था. हिन्दुस्तान एयनोनाॅटिक्स लिमिटेड (एचएएल) में काम करते थे. इस बीच उनकी नौकरी छूट गई. उन्होंने खिड़की दरवाजों की वेल्डिंग का काम शुरू किया. रिश्तेदार उनका मजाक उड़ाने लगे. असल में वरूण पंडित थे इसलिए लोग कहते थे वरूण लोहार का काम कर रहे है. वरूण ने उनकी बातों की परवाह नहीं की, आज 27 साल बाद उनकी सफलता आसमान को छू रही है. उनका मजाक उड़ाने वाले रिश्तेदार अब उन पर नाज करते है. उन्हें अपना रिश्तेदार बताने में गर्व महसूस करते है.

वरूण ने 1990 में 16 हजार रूपए कर्जा लेकर अपना कारोबार शुरू किया. आज उनका कारोबार 100 करोड़ के ऊपर है. इस बीच उन्होंने काफी उतार चढ़ाव देखें. शुरू-शुरू में अलमारी डीलर्स उनकी अलमारी को उधार में ही रखने के लिए तैयार नहीं होते थे. आज हालात यह है कि उन्हें एडवांस में आर्डर मिलते है. उनकी कंपनी में 300 अलमारी रोजाना तैयार होती है.

इस कहानी को बताने का हमारा उद्धेश्य यह है कि अलमारी के बिजनेस को छोटे-मोटे बिजनेस ना समझें. ना ही इसे शुरू करने के पहले यह सोचे लोग क्या कहेंगे? जब आप किसी बिजनेस में सफल हो जाते हैं. दुनिया अपने आप सेल्यूट करने लगती है.

इसे भी पढ़े :-

 

बजट

Steel almirah Making Business (अलमारी मैकिंग बिजनेस) को कम बजट में शुरू करने के लिए आपके पास एक से दो लाख रूपए होना जरूरी है जिससे आप कुछ मशीनें खास कर गैस वेडिंग व इलैक्ट्रिक वेल्डिंग मशीन, राॅ मटेरियल लेकर इस काम को शुरू कर सकते हैं. अलमारी का बिजनेस किसी भी छोटे-बड़े शहर में शुरू कर सकते है. इसमें लगने वाला लोहे की चादर, कब्जा, चिकटनी, लाॅकर, ताले आदि लोकल मार्केट में ही मिल जाएंगा. शुरूआत में दो-चार अलमारी बनाकर अपने बिजनेस को शुरू करें. हर आलमारी में लगभग एक से दो हजार रूपए की बचत हो होती है. आॅर्डर मिलने पर कारीगरों की संख्या बढ़ा कर काम को और बढ़ा सकते है.

बिजनेस के लिए लोन

Steel almirah Making Business (अलमारी मैकिंग बिजनेस) फेब्रिकेश इंडस्ट्री में आता है. इस बिजनेस को शुरू करने के लिए मुख्यमंत्री रोजगार योजना व प्रधानमंत्री रोजगार योजना के अन्र्तगत लोन दिया जाता है. मुद्रा लोन, बैंक लोन, खादीग्रामोद्योग लोन या एमएसएमई के द्वारा भी लोन प्राप्त कर सकते हैं. इस के लिए आपको प्रोजेक्ट तैयार करके जमा करनी पड़ेगी.

आॅनलाइन सेलिंग

आजकल आॅनलाइन का जमाना है. आॅनलाइन भी आलमारी की बिक्री हो रही है. आप भी आॅनलाइन अलमारी की सेलिंग कर सकते है. अलमारी की आॅनलाइन सेलिंग के लिए एक वेबसाइट बनाना होगा या किसी ईकामर्स वेबसाइट पर रजिस्टर कर आलमारी बेच सकते हैं.  यह ऐसा बिजनेस है एक बार यदि आप मार्केट में अपनी पैठ बना लेते हैं तो आपके पास आॅर्डर की कमी नहीं रहेगी और कुछ ही दिनों में आप शहर के अमीर लोगों की लिस्ट में शामिल हो जाएंगे.

पब्लिसीटी

अलमारी के बिजनेस के लिए पब्लिसीटी की आवश्यकता नहीं होती है. इसकी वजह है माल डायरेक्ट मार्केट में होलसेल डीलर्स को सप्लाई देते है. यदि आप खुद अपने यहां से बेचना चाहते है तो इसके लिए आपको एक शानदार आउटलेट बना कर यहां से विभिन्न आकर व डिजाइन के अलमारी बेच सकते है. आॅर्डर पर लोगों की इच्छा अनुसार इसे तैयार करके दे सकते हैं.

आवश्यक नियम

Steel almirah Making Business (अलमारी मैकिंग बिजनेस) शुरू करने के लिए खुली जगह की आवश्यकता होगी. आप शहर के बाहरी इलाके यदि आपके पास खुली जगह है तो काफी अच्छी बात है यदि नहीं है तो जगह किराए पर लेकर इस बिजनेस शुरू कर सकते है. खुली जगह पर शेड डालकर इस काम को करना काफी अच्छा रहता है.

Steel almirah Making Business (अलमारी मैकिंग बिजनेस) के लिए थ्री फेस कामर्शियल इलेक्ट्रीक कनेक्शन होना जरूरी है. साथ ही नगर निगम से लायसेंस, उद्योग आधार लायसेंस, जीएसटी तथा प्रदूषण नियंणत्र बोर्ड से एनओसी लेना जरूरी है.

इसे भी पढ़े :-

बिना पूंजी का बिजनेस कमाई लाखों में

Share Button

Related posts

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.