रेस्टोरेंट बिजनेस | Restaurant business

रेस्टोरेंट बिजनेस

 कम खर्चे में स्वयं का रेस्टोरेंट खोलने का पूरा प्रोसेस जानें

Restaurant business (रेस्टोरेंट  बिजनेस) एक ट्रिकी बिजनेस है. जिन्हें कस्टमर की मेंटलिटी समझने की समझ है, वे इस बिजनेस को बड़ी असानी से चला ले जाते हैं. यहीं नहीं साल दर साल नए जगह पर नया रेस्टोंरेट शुरू कर अपना बिजनेस बढ़ाते रहते हैं. वहीं जानकारी के अभाव में अनेक रेस्टोंरेट शुरू होने के साल दो साल के अंदर में बंद हो जाते हैं. एक सर्वे में यह भी पता चला है कि होटल मनेंजमेंट या एमबीए वाले भी रेस्टोरेंट बिजनेस में फेल होते देखें गए है. वहीं अनेक रेस्टोरेंट के मालिक कम पढ़े-लिखें या बिना पढ़ेलिखें होने के बावजूद इस बिजनेस में सक्सेज हो जाते हैं.

Restaurant business रेस्टोरेंट बिजनेस की सबसे बड़ी खूबी यह है कि कस्टर को अट्रैक्ट करके उनके पास से अधिक से अधिक पैसा निकालने के साथ उसे इतना खुश कर दें कि वह आपके यहां से खुशी-खुशी जाएं उसे पता भी ना चले कि उसकी जेब से अधिक रूपए निकल गए है. यहीं नहीं वह आपके यहां दोबारा भी आए और अपने दोस्तों को भी आपके रेस्टोरेंट की खुबियां बयान करें.

मुंबई के फेमस ब्रेक फास्ट

– सबसे पहली बात Restaurant रेस्टोरेंट शुरू करने के पहले इसकी पूरी प्लानिंग कर लें. बिना प्लानिंग के रेस्टोंरेट कभी शुरू ना करें.

– इंटीरियर काफी इफैक्टिव हो. 80 परसेंट लोगों को खाने के टेस्ट की बजाय Restaurant रेस्टोरेंट के इंटीरियर पर इम्प्रेस हो जाते हैं. इंटीरियर में कलर, फर्नीचर, लाइटिंग, ग्लास वेयर पर ध्यान दें.

– Restaurant रेस्टोंरेट के अंदर में कलर ऐसा हो जो वहां आने वाले कस्टमर को शकून दें. Restaurant रेस्टोंरेट में लाइटिंग की अच्छी व्यवस्था होनी चाहिए. रेस्टोरेंट में लाठट म्युजिक चलता रहे. इसके साथ ही मनोरंजन के लिए टीवी का इंतजाम हो. क्रिकेट, फुटवाल आदि मैच के दिनों में टीवी की संख्या बढ़ा दें ताकि लोग लाइव प्रोग्राम का मजा लें सके.

– Restaurant रेस्टोंरेट में वेटर के ड्रेस काफी खूबसूरत डिजाइन की हुई होनी चाहिए. जिससे वे एक्टिव लगे. उनके ड्रेस को अपने शहर के किसी बड़े डिजानर से तैयार करवाएं. ड्रेस की डिजाइन आपके Restaurant के थीम के अनुकूल हो.

Ghar se shuru kare cooking classes

– Restaurant रेस्टोंरेट में मीनू में कौन सा डिश रखेंगे. इस बारे में रेस्टोंरेट को शुरू करने के पहले अच्छे से विचार कर लें. कस्टमर को टारगेट करके ही सही मीनू बनाएं. जब कस्टमर को टारगेट करने की बात आती है तो यह आपके लोकेशन पर निर्भर करता है. आप किस लोकेशन में Restaurant शुरू करना चाहते हैं. उसी के हिसब के आपको कस्टमर मिलेंगे. यदि आप पाॅश इलाके में Restaurant शुरू करना चाहते हैं तो उन्हें टारगेट करके मीनू तैयार करें.

– इस बात का ध्यान रखें रेस्टोंरेट दो तरह के होते हैं पहला बे्रक फास्ट वाले जिसे फास्ट फूड रेस्टोंरेट भी कहा जाता है दुसरा डायनिंग यानी लंच व डिनर वाले रेस्टोंरेट. इनमें आप किसे चुज करने वाले है उसे ही ध्यान में रखकर मीनू तैयार करें.

– मीनू तैयार करने के साथ साथ प्राइज भी तय कर लें. प्राइज लिस्ट तैयार करने के लिए अपने इलाके के बढ़िया चलने वाले Restaurant रेस्टोरेंट के प्राइज लिस्ट को देखें. इसके अनुसार ही प्राइज रखें. प्राइज ऐसे होने चाहिए कि वह लोगों को अधिक ना लगे.

– क्युक सर्विस दें. मतलब आपके Restaurant रेस्टोरेंट में इतने कर्मचारी होने चाहिए की Customer (कस्टमर) के आॅर्डर करते ही वह चीज उसे मिल जाएं. जैसे मिनरल वाटर, ड्रिंक, आइस्क्रीम की आदि की तुरंत सर्विस होनी चाहिए.

– पूरे रेस्टोंरेट में सफाई का खास ध्यान रखें. Restaurant रेस्टोंरेट के सर्विसिंग हाल में ही नहीं रेस्टोंरेट का किचन भी साफसुथरा हाइजैनिक होना चाहिए.

– यदि आप पाॅश इलाके में रेस्टोरेंट शुरू कर रहें हैं ऐसे वेटर रखें. जिन्हें अंग्रेजी आती हो. जिससे Customer (कस्टमर) की बातों को समझने में वेटर को कोई दिक्कत ना आएं.

– मीनू कार्ड की डिजाइनिंग डिफरेंट होनी चाहिए. जो दिखने में काफी आकर्षक हो. इसे किसी अच्छे प्रोफेशनल Menu card (मीनू कार्ड) डिजाइनर से डिजाइन करवाएं.

– Menu card (मीनू कार्ड) में कुछ डिश के फोटो हो. जिन्हें आप प्रमोट करना चाहते हैं या जो मोस्ट प्रोफिटेबल हो. अधिकतर लोग फोटो वाले डिश लेना पसंद करते हैं.

– Menu मीनू में एक डिश ऐसी हो जिसका रेट काफी मंहगा हो. जिसके सामने दुसरे डिश के रेट काफी कम लगे. मंहगे डिश की डिमांड कम लोग करेंगे. पर यह एक डिश आपको काफी प्राफिट दिलाएगी. दुसरी बात इस मंहगे डिश की वजह से आपके रेट लिस्ट कुछ मंहगा होने के बाद भी लोगों का ध्यान उस पर नहीं जाएंगा.

– डिशेज के नाम डिफरेंट और लंबे लंबें हो. जो डिश की खुबियों के बारे में बयान करें उसे पढ़ने के बाद कस्टमर को वह डिश फाइव स्टार होटल के डिश के जैसे या टीवी शो में दिखाई देने वाले डिश की तरह लगे.

– आपने देखा होगा मेकडोनल, केएफसी, सबवे आदि में किसी एक सस्ते डिश को एड में प्रमोट किया जाता है. ऐसा कस्टमर को अपनी ओर अट्रैक्ट करने के लिए किया जाता है. आपके रेस्टोरेंट में भी कुछ इसी तरह का एक डिश होना चाहिए. जिसका रेट काफी कम हो जिसे आप कस्टमर को अट्रैक्ट करने में कर सके.

– पीकअप टाइम पर एक वेटर गेट पर ही खड़ा करें. कस्टमर के पहुंचते ही वह उनसे पूछे क्या उनकी टेबल बुक है. ना कहने पर उन्हें कुछ देर रूकने के लिए कहें. ऐसा वह रेस्टोंरेट की सारी टेबल खाली होने के बाद भी कहें. फिर पैड के पन्ने उलटने के बाद उनसे कस्टमर की संख्या पूछे फिर कुछ सोचनेे के बाद उन्हें टेबल की ओर जाकर बैठने का इशारा करें. माना जाता है ऐसा करने पर रेस्टोंरेट की व्यैलू बढ़ती है.

– टेबल पर रखें पानी के गिलास हमशा भरे रखें. कस्टमर के पहुंचने पर उनसे यह जरूर पूंछे, क्या आप ठंडा मिनरल वाटर बोतल लेना पसंद करेंगे. टेबल पर पानी भरे गिलास होने के बाद भी कस्टमर मिनरल वाटर मंगवा लेगा.

चिक्की और लड्डू का बिजनेस कमाई 20 हजार रूपए महिना

– समय-समय पर अपने यहां किसी सिलिब्रिटी को बुलाते रहें. शहर में कोई सिलिब्रिटी आया हो तो उसे रेस्टोरेंट में बुला लें. उसका मीडिया में प्रचार करवाएं. इससे आपके रेस्टोरेंट के प्रति लोगों का आकर्षण बढ़ेगा. यदि आप अपने रेस्टोरेंट में किसी सिलिब्रिटी को बुलाना चाहते है. तो आप इस बारे में कमेंट बाक्स में लिखें.

– रेस्टोरेंट बिजनेस को प्रामोट करने के लिए इसका एक लैंडमार्क बनाएं. यदि आप अपने रेस्टोरेंट का लैंडमार्क बना लेते हैं तो यह आपके रेस्टोरेंट की माउथ पब्लिसीटी में काफी मदद करता है. लैंडमार्क तैयार करने के लिए कुछ युनिक आइडिया ट्राई करें.

– जब आप रेस्टोरेंट का नाम सोच रहे हैं. उसी वक्त लैंडमार्क के बारे में भी सोच लें. मान लें रेस्टोरेंट का नाम आॅनली हेडरेड रूपीज पे रखा गया है. इसके लैंडमार्क के लिए आप एक बड़ा सा सौ का नोट बनाकर रेस्टोरेंट के छत पर लगा दें ताकि दूर से दिखाई दें.

– रेस्टोरेंट के लिए खास लोकेशन का चुनाव करें, जिससे रेस्टोरेंट को पिकअप लेने में देर नहीं लगती.

– किसी भी बिजनेस की पब्लिसीटी बहुत जरूरी है. तभी वह बढ़ सकता है. पब्लिसीटी के लिए कुछ बजट जरूर रखें. पब्लिसीटी के लिए लोकल टीवी या केबल पर रेस्टोंरेट के एड के स्ट्रिप लगवाएं. अच्छे किस्म का हैंडबिल पब्लिश करवा कर समाचार पत्रों में डलवाएं. जिससे घर-घर तक आपके रेस्टोंरेंट के बारे में पता चल जाएं.

 

Share Button

Related posts

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.