Papad Udyog Business Kaise Shuru Kare

Papad udyog

low budget business | low investment business for ladies | business ideas hindi

 

Papad Udyog Business Kaise Shuru Kare – पापड़ उद्योग बिजनेस को कैसे शुरू करेंगे. Papad Udyog पापड़ उद्योग शुरू करने के लिए कई स्टेप को फोलो करना होगा. जैसे Papad Udyog पापड़ उद्योग के लिए लागत यानी कितना बजट चाहिए. Papad Udyog पापड़ उद्योग शुरू करने के लिए कौन कौन से सरकारी लाइसेंस और रजिस्टेशन करवाना अनिवार्य है. तैयार पापड़ की मार्केटिंग कैसे करेंगे. सरकार द्वारा दी जाने वाली सहायता आदि के बारे में जानना चाहते है तो लेख को अंत तक हमारे साथ बने रहे.

भारत में पापड़ खाना काफी पसंद किया जाता हैं. जैसा कि हम सभी जानते है कि पापड़ एक ऐसी चीज है जिसका इस्तेमाल लगभग सभी के घरो में fast food के रूप में किया जाता है. इसलिए पापड़ की मांग हमेशा रहती हैं.

घरेलु पापड़ की काफी डिमांड है. आज भी लोग हाथ से बने पापड़ खाना अधिक पसंद करते है. घरेलु बिजनेस के रूप में पापड़ का बिजनेस काफी पूराना है. पहले के समय में उन महिलाओं द्वारा पापड़ का बिजनेस किया जाता था, जो अनपढ़ या कम पढ़ीलिखी होती थी. लेकिन आजकल केवल अनपढ़ महिलाएं ही नहीं, पढ़ी लिखी महिलाओं द्वारा इस बिजनेस को किया जा रहा है. हमारे देश में लगभग 60 प्रतिशत पापड़ की पूर्ति लोकल पापड़ उद्योगों द्वारा ही किया जा रहा है.

बहुत सी महिलाएं साथ मिलकर एक समूह बनाकर इस उद्योग को शुरू कर सकती हैं व अपनी आमदनी को बढ़ा सकती हैं. वर्तमान में भी बहुत सी महिलाओं द्वारा पापड़ उद्योग किया जा रहा है जो काफी सफल भी हैं. लिज्जत पापड़ की सक्कसेज स्टोरी हर किसी को मालूम होगी. यह एकमात्र ऐसी कम्पनी है जिसका product पुरे देश में मिलता है. यह एक प्रकार से महिलाओ का सहकारी संगठन है तथा इसे पुरे देश में कई स्थानों से संचालित किया जाता है. यह कंपनी आज करोड़ों का बिजनेस कर रही है.

पापड़ कितने प्रकार How many types of papad | low budget business | low investment business for ladies

 

पापड़ कई प्रकार के होते है. मार्केट में विभिन्न वेराइटी के पापड़ बिकते है जैसे मूंग दाल के पापड़, उड़द दाल के पापड़, चना दाल के पापड़, चावल के पापड़, साबूदाना के पापड़, गेंहू के पापड़, ज्वार के पापड़, मक्का के पापड़, आलू के पापड़ और एरारोट आदि के पापड़.

मार्केट में सबसे अधिक बिकने वाला पापड़ है मूंग दाल और उड़द दाल से तैयार पापड़. मूंग दाल और उड़द दाल से तैयार पापड़ की डिमांड घरों के अलावा होटलों और रेस्टोरेंट व शादी, समारोह जैसी पार्टीयों में होती है.

चावल के पापड़, चना दाल के पापड़, साबूदाना के पापड़, गेंहू, ज्वार, मक्का, एरारोड, और आलू के पापड़ व चिप्स की डिमांड फास्टफूड के तौर पर घरों में अधिक होती है.

पापड़ उद्योग में स्कोप Scope in papad industry | low budget business | low investment business for ladies

 

आम तौर पर लगभग सभी मौकों और त्यौहारों में भोजन के साथ पापड़ परोसा जाता है. अतः इनकी खपत देश के हर शहर और गांव के हर घर में होती है यानी इस उद्योग में करियर उज्ज्वल है.

पापड़ की डिमांड देश के हर छोटे बड़े शहर व गांव में है इतना ही नहीं ब्रिटेन, अमेरिका, संयुक्त अरब अमीरात, सिंगापुर,  नाइजीरिया, ओमान, मलेशिया, कुवैत, कनाडा, बहरीन और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में भी भारत के बने पापड़ो की काफी डिमांड हैं. पापड़ के डिमांड को देखते हुए पापड़ उद्योग में काफी अच्छा स्कोप हैं.

साथ ही पापड़ बनाने में किसी एक ब्रांड या कंपनी का नाम नहीं चलता है. भारत में गिने चुने कंपनियां ही है जो पुरे देश में फैली हुई हैं जो काफी कम है. जबकि 60 प्रतिशत बिजनेस लोकल पापड़ निर्माताओं द्वारा किया जाता हैं.

पापड़ उद्योग के लिए सरकारी सहायता Government Support for Papad Industry | low budget business | low investment business for ladies

 

सबसे पहले पापड़ उद्योग बिजनेस के लिए दी जाने वाली सहायता के बारे में जान लें. ताकि आपके पास बजट कम है तो आप किस तरह से सरकारी मदद लेकर पापड़ उद्योग बिजनेस को शुरू कर सकती है.

पापड़ उद्योग बिजनेस के लिए बैंक भी महिलाओं को कम दर पर लोन दे रही है. इसके लिए आप प्राइवेट स्तर पर या सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न स्कीमों के तहत नजदीकी बैंक में आवेदन कर सकते हैं.

शहरों के लिए ही नहीं ग्रामीण क्षेत्रों में भी पापड़ उद्योग शुरू करने के लिए ग्रामीण बैंक, ग्राम पंचायत आदि संस्थानों द्वारा लोन दिया जा रहा हैं. इसके अलावा आप कई महिलाओं को साथ में जोड़कर स्वयंसेवी संस्था बना कर लघु उद्योग के रूप में इसकी शुरूआत कर सकती है. ऐसी संस्थाओं को सरकार द्वारा भी सहायता दी जाती है.

पापड़ उद्योग के लिए जगह की आवश्यकता Papad industry needs space | low budget business | low investment business for ladies

 

पापड़ उद्योग बिजनेस को ऐसी जगहों पर शुरू किया जा सकता है जहां धूप में पापड़ सूखा सके. बजट कम है तो आप शुरू में अकेले ही पापड़ बनाकर बेचने का काम शुरू करें. जैसे-जैसे पापड़ की डिमांड बढ़ती जाएगी आप दो-चार महिलाओं को अपने साथ जोड़कर उन्हें भी रोजगार दे सकती है.

यदि आप समूह बनाकर बड़़े स्तर पर पापड़ उद्योग बिजनेस को शुरू करना चाहती है लगभग 60 से 80 वर्गमीटर जगह की आवश्यकता होगी, जिसमे आप पापड़ बनाने से लेकर, सुखाने और पैकिंग का काम आसानी से कर सकें. यदि जगह कम है यानि 40 या 50 वर्गमीटर जगह भी है तो आप ड्रायर मशीन द्वारा पापड़ सुखाने का कार्य कर सकती है.

Read this :- Men’s Accessories Business | मेन्स एसेसरीज बिजनेस

पापड़ उद्योग के लिए कच्चा माल Raw material for papad industry | low budget business | low investment business for ladies

 

पापड़ उद्योग बिजनेस के लिए जगह का चुनाव होने के बाद पापड़ बनाने के लिए कच्चा माल की लिस्ट तैयार करें. ताकि होलसेल मार्केट से एक साथ सभी माल ला सकें. इससे आपका काफी पैसा बच जाएगा.

सबसे पहले आप यह तय करें की आप कौन सा पापड़ बनाना चाहती है. क्योंकि पापड़ कई प्रकार के होते है. उनमें इस्तेमाल होने वाला कच्चा माल भी अलग अलग तरह के होते है. इसी तरह उन्हें बनाने का तरीका भी अलग अलग होता है. जैसे आलू के पापड़ बनाने के लिए आलू की आवश्यकता होती है.

इसमें नमक और स्वाद के लिए विभिन्न प्रकार के मसाले डालें जाते है. दाल के पापड़ में भी कई वेराइटी है. जैसे चना दाल के पापड़, मूूंग दाल के पापड़, उड़द दाल के पापड़. गेंहूं मक्का ज्वार, बाजरा, साबूदाना, चावल, एरारोट और रवा आदि के पापड़ भी बनाएं जाते है और मार्केट में इनकी डिमांड भी हैं.

मार्केट में सबसे अधिक बिकने वाला पापड़ मूंग या उड़द दाल या एरारोट से तैयार पापड़ों की होती है. इसलिए आप जो भी पापड़ बनाना चाहें वहीं आपका मुख्य कच्चा माल होगा. इसके अलावा उनमें आवश्यकता अनुसार मसाला, नमक, सोडियम बाई कार्बोनेट आदि सामाग्री की आवश्यकता होगी. ये सभी सामान कहीं भी आसानी से मिल जाता हैं. माल खरीदते समय ध्यान रखें पापड़ बनाने के लिए जो भी आवश्यक कच्चा माल खरीदें अच्छी क्वालिटी का हो क्योंकि माल की क्वालिटी पर आपके पापड़ की क्वालिटी व स्वाद निर्भर करती है.

Read this :- Egg selling business in village area देशी मुर्गी के अण्डों desi egg का बिजनेस desi egg

पापड उद्योग के लिए मशीन Machine for papad industry | low budget business | low investment business for ladies

 

पापड उद्योग की शुरूआत यदि आप छोटे स्तर पर कर रही है तो आवश्यकता होने पर ही छोटे साहज के मशीन खरीदें. बिजनेस बढ़ने पर आप मशीनों की संख्या बढ़ा सकती है. इसी तरह, यदि बड़े स्तर पर पापड़ उद्योग शुरू कर रही है तो शुरूआत में मिडियम साइज के मशीन खरीदें. इसके बाद जैसे बिजनेस बढ़ता जाएगा आवश्यकता अनुसार मशीनों को बढ़ा सकती है.

पापड़ बनाने के लिए मुख्यतः पल्व लाइजर, ग्राइंडर मशीन, फ्लोर मिल, पापड़ मेकिंग मशीन आदि की आवश्यकता होगी. यदि आपके पास पर्याप्त जगह है तो आप पापड़ को धुप में सुखा सकती है. यदि जगह की कमी है तो पापड़ सुखाने के लिए drying machine मशीन की आवश्यकता होगी.

छोटे स्तर पर पापड़ उद्योग बिजनेस करने पर पेकिंग आप हाथ से कर सकती है. लेकिन बड़े स्तर पर बिजनेस कर रही है और पापड़ उद्योग को एक ब्रांड बनाना चाहती है तो paking machine पैकिंग मशीन की भी आवश्यकता होगी.

Read this :- यूनीसेक्स युटी पार्लर 1 लाख रूपए प्रति माह करें इंकम 

पापड उद्योग के लिए मशीन कहां से खरीदें Where to buy machine for papad industry | low budget business | low investment business for ladies

 

ये सभी मशीने आपको मार्केट में आसानी से मिल जाएगें. ऑनलाइन मशीन खरीदना चाहती है तो इंडिया मार्ट की वेबसाइट में जाकर सर्च करें. यहा आपको मशीनों के साइज, डिजाइन और कीमत के बारे जानकारी हो जाएगी. आप अपने बजट के हिसाब से मशीन खरीद सकती है. मशीन खरीदते समय ही इसके इस्तेमाल के बारे में भी बता दिया जाता है. आधे या एक घंटे की ट्रेनिंग में ही आप मशीन का इस्तेमाल अच्छे से करना सीख सकती है.

इंडियामार्ट की वेबसाइट का लिंक नीचे दिया गया है.

https://dir.indiamart.com/impcat/automatic-papad-making-machine.html

पापड़ उद्योग के लिए जगह का चुनाव हो गया पापड़ बनाने के लिए कच्चा माल भी आ गया अब सवाल उठता है कि पापड़ कैसे बनाएंगी. आप जो भी पापड़ तैयार करेंगी, उसकी पहले ट्रेनिंग जरूर लें ले. क्योंकि घर के लिए पापड़ बनाना अलग बात है और पापड़ उद्योग बिजनेस को शुरू करने के लिए पापड़ तैयार करना अलग बात है.

पापड़ बनाने की ट्रेनिंग आप सरकारी या गैरसरकारी संस्थाओं से ले सकती है. ट्रेनिंग के दौरान ही आपको इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल और उसमें दी जाने वाली सामाग्री की मात्रा के बारे में जानकारी दी जाती है. साथ ही बनाने की विधि भी बताई जाती है. ट्रेनिंग लेकर पापड़ उद्योग को बड़े स्तर पर शुरू करेंगी तो बेहतर तरीके से कर पाएंगी.

Read this :- Rose farming : earn up to 5 to 10 lakhs गुलाब की खेती हर साल करें 5 से 10 लाख की कमाई

पापड़ की मार्केटिंग Papad Marketing | low budget business | low investment business for ladies

 

पापड़ उद्योग बिजनेस चाहें छोटे स्तर पर करें या बड़े स्तर पर इसकी मार्केटिंग की आवश्यकता होगी.
मार्केटिंग के लिए रिटेल या होलसेल में बेच सकती है. रिटेल में बेचने के लिए एक-दो सेल्सगर्ल या सेल्सवाॅय रखकर आसपास के अपार्टमंेट, दुकानों, सरकारी व गैरसरकारी संस्थानों में सेल कर सकती है.

महिलाएं भी पुरूष के कंधे से कंधा मिलाकर घर से बाहर जाकर नौकरी कर रही है. ऐसे में उनके पास इतना समय ही नहीं होता है कि वे घर में रहकर पापड़ तैयार करें. ऐसे में वे माॅल या दुकानों से पापड़ खरीदती है. यदि उन्हें आसपास ही हाथ के बने पापड़ मिल जाएं तो फिर बात ही क्या है. कुछ महिलाएं जिन्हें पापड़ बनानी नहीं आती है, उन्हें घर बैठे ही तैयार पापड़ मिल जाए तो वह खरीदना पसंद करती है.

बड़े पैमाने पर पापड़ तैयार कर रही है तो होलसेल मार्केट, छोटे बड़े दुकानों और माॅल में भी सप्लाई दे सकती है. इसके अलावा आप अमेजन, इंडियामार्ट या अलीबाबा जैसे वेबसाइटों में ऑनलाइन स्टोर शुरू कर सकती है.

Read this :-

पापड़ उद्योग में लगने वाली लागत Papad industry Cost incurred | low budget business | low investment business for ladies

 

पापड़ उद्योग में लगने वाली लागत की बात करें तो यह आप पर निर्भर करता है की आप इस पर कितना खर्च कर सकती है. पापड़ उद्योग लघु उद्योगों में गिना जाता हैं इसलिए इसमें बहुत अधिक निवेश की आवश्यकता नहीं होती. यदि आप पापड़ उद्योग को छोटे स्तर पर शुरू करती है और पापड़़ को हाथ से बनाती है तथा उन्हें धुप में सुखाती है. पैकिंग का काम भी हाथ से करती तो पांच हजार रूपए से इस बिजनेस को शुरू कर सकती है.

Read This :- Tutti Frutti Business (hindi) |Small Business Ideas | टूटी फ्रूटी बिजनेस| Business Mantra

यदि आप पापड़ उद्योग को बड़े स्तर पर मशीनों की मदद से शुरू करना चाहती है तो यह मशीनों की क्वालिटी, आकार, प्रकार और कीमत पर निर्भर करेंगा की उद्योग शुरू करने के लिए कितने रूपए की आवश्यकता होगी.
कमाई कितनी होगी

इस बिजनेस में कमाई की कोई सीमा नहीं है. आप जितना अधिक मेहनत करेंगी, जितनी अधिक माल की सप्लाई कर पाएगी उस हिसाब से आप इनकम कर सकती है. विशेषज्ञों के अनुसार पापड़ उद्योग में खर्च की गई लागत का 30 से 40 प्रतिशत तक की बचत होती है.

यानि पापड़ उद्योग में होने वाली इनकम भी आपके द्वारा निवेश की गई राशि पर डिपेंट होती है. आप बिजनेस पर अधिक निवशे करेंगी तो बचत भी अधिक होगी. इसका यह मतलब नहीं है कि आप कम पूंजी निवेश करेंगी तो कम कमाई करेंगी. अधिक निवेश करेगी तो कमाई का आकड़ा भी अधिक होगा.

Read This :- 5000/- me shuru kare business har mahine hogi 50 hajar ki kamai | kulhad ka busines | Business Mantra

कमाई का आकड़ा मार्केटिंग पर डिपेंड है. यदि आपके पास एक अनुभवी डिस्ट्रीब्यूटर है और उसकी मार्केट में अच्छी पकड़ है आपके प्रोडेक्ट की क्वालिटी व स्वाद भी बेहतर है तो कमाई भी बेहतर होगी.

शुरूआत में कमाई का आकड़ा कुछ कम या ज्यादा हो सकता है. लेकिन बिजनेस जैसे जैसे ग्रो करेगा कमाई का आकड़ा भी बढ़ता जाएगा.

License or Registrations for all business | low budget business | low investment business for ladies

 

पापड़ उद्योग के लिए कौन कौन से सरकारी लाइसेंस तथा रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता होगी.

सबसे पहले तो आपको बताना चाहूंगी की बिजनस कोई भी चाहे वो बड़ा हो या छोटा सरकारी लाइसेंस तथा रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता होती है. यदि आप बिना किसी रूकावट के बिजनस करना चाहती है तो इन लाइसेंस तथा रजिस्ट्रेशन को पूरा कर लें.

खाद्य पदार्थ food item से संबंधित बिजनेस होने के कारण इसके लिए BSI तथा fssai लाइसेंस की आवश्यकता होगी. इसके अलावा कंपनी रजिस्ट्रेशन, जीएसटी लाइसेंस, उधोग आधार रजिस्ट्रेशन जरूर करवा लें.

Read This :- Trending Business Ideas | Pre Wedding Shoot Pics Business

किसी उद्योग को शुरू करने से पहले यदि सरकारी लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन आदि करवा लेगी तो बिजनेस को सुचारू रूप से चलाने में आसानी होती है और सरकार द्वारा दी जानें वाली सहायताएं भी आसानी से ले सकती है.

बिजनेस टिप्स Business Tips | low budget business | low investment business for ladies

 

पापड़ उद्योग शुरू करने पर कुछ जरूरी बातों को हमेशा ध्यान रखें.

  • पापड़ के स्वाद और क्वालिटी का ध्यान रखें. क्योंकि पापड़ अपने स्वाद और क्वालिटी के कारण बिकता है.
  • पापड़ एक खाद्य पदार्थ है इसलिए साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें. कमाई के चक्कर में माल की क्वालिटी के साथ कोई समझौता ना करें.
  • पापड़ उद्योग घरेलु उद्योग है. यह नेटवर्कीग पर निर्भर करता है. आपका नेटवर्कीग जितनी बड़ी होगी, बिजनेस भी उतनी तेजी से ग्रो करेगा.
  • पापड उद्योग में पापड़ की वेराइटी होनी चाहिए.
    में एक ही वेराइट के पापड़ लेकर बिजनेस को ना शुरू करें. वेराइटी अधिक होने पर लोग हर बार कुछ न कुछ नया खरीद ही लेगें.
Share Button

Related posts

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.