कमर्शियल पायलट कैसे बनें लाइसेंस कैसे पाएं | How to Get a Commercial Pilot License

pilot training course business maantra

पायलट Pilot कैसे बनें लाइसेंस कैसे पाए

 

pilot training course business maantra
pilot training course business maantra

जिन्हें आसमान में सैर करने का शौक है यानी जो हवाई जहाज या हेलिकाप्टर उड़ना चाहते हैं. मतलब जो पायलेट बनना चाहते हैं. वे कमर्शियल पायलेट का लाइसेंस लेकर अपना सपना पूरा कर सकते हैं. यह बड़ा ही रोमांच भरा करियर है जिसमें बिना एक्स्ट्रा खर्च किए दुनिया घुमने का मौका मिलता है. यहां हम कमर्शियल पायलेट बनने के पूरे प्रोसेस के बारे में जानकारी दे रहे हैं. पायलेट बनने के लि योग्यता, व्यक्तिगत गुण, पायलेट के वेतन, जाॅब की संभावनाएं, पायलेट बनने के लिए आने वाला पूरा खर्च, कामर्शियल पायलेट के लिए प्रमुख ट्रेनिंग इंस्टीट्युट व फ्लाइंग क्लब के बारे में सारी जानकारी दे रहे हैं.

एक समय ऐसा था जब हमारे देश में एक ही एयरलाइंस हुआ करती थी लेकिन आज दर्जनों एयरलाइंस कंपनियां मौजूद है. साथ सरकारी व गैरसरकारी संस्थानों व बड़े उद्योगपतियों द्वारा विमान रखने का चलन बढ़ रहा है. जिसकी वजह इस क्षेत्र में अच्छी डिमांड होने लगी है. विकास के आकड़ों में देखा जाएं तो यह सेक्टर 25 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है. फिलहाल भारत में कमर्शियल पायलेट की जितनी मांग है, उस हिसाब से इनकी संख्या काफी कम है. परिणाम स्वरूप उपलब्ध पायलटों को ऊंचे वेतन पर रखा जाता है.

व्यक्तिगत गुण Personal property

युवक या युवती दोनों ही इस क्षेत्र में आ सकते हैं. पायलट का काम बेहद रोमांचक, बहुत ही उच्च विशेषता वाला करियर है. पायलट बनने के लिए व्यक्ति को शांत, जिम्मेदार, समझदार, साहसी, मुश्किल परिस्थितियों से निपटने वाला, हालात को संभालने वाला, दिमाग को सक्रिय रखने वाला, हमेशा सर्तक रहने वाला, आत्मविश्वासी, अनुशासन, सब्र जैसी खुबियों से परीपूर्ण होना जरूरी है.

पायलट बनने के लिए योग्यता Eligibility for becoming a pilot

– 12वीं साइंस (फिजिक्स, कैमिस्ट्री और मैथ) की परीक्षा पास 50 प्रतिशत अंक से पास हो जरूरी
– इंग्लिश का अच्छा ज्ञान
– न्यूनतम उम्र 16 साल
– भारत का नागरिक
– आंखों का विजन परफेक्ट होना
– हाथ और पैरों का सही तालमेल जिसे मोटर स्किल्स कोर्डिनेशन कहा जाता है काफी अच्छा होना चाहिए
– मानसिक व शारीरिक रूप से पूरी तरह से फिट
– हाईट कम से कम 5 फीट होना जरूरी

एक कामर्शियल पायलेट सभी तरह के एयरक्राप्ट जैसे पैसेंजर जेट, कार्गो, चार्टेट और हेलीकाप्टर उड़ाता है. कमर्शियल पायलेट बनने के लिए कई तरह की परीक्षाओं और ट्रेनिंग पूरी करनी पूरी करनी होती है. सबसे पहले स्टुडेंट पायलेट लायसेंस फिर प्रायवेट पायलेट लायसेंस इसके बाद कमर्शियल पायलेट लायसेंस प्राप्त करना होता है. इसके बाद वह प्लेन के काॅकपिट में बैठ कर प्लेन को उड़ा सकता है.

 

pilot training course business maantra
pilot training course business maantra

स्टुडेंट पायलट लाइसेंस Student Pilot License

कमार्शियल पायलेट बनना चाहते हैं तो सबसे पहले स्टुडेंट पायलट लाइसेंस लेना जरूरी होता है. लाइसेंस लेने के बाद महानिदेशक एविएशन भारत सरकार द्वारा प्रमाणित किसी भी फ्लाइंग क्लब में नाम दर्ज करवाना जरूरी होता है. नाम दर्ज करवाते वक्त मेडिकल सार्टिफिकेट, सिक्योरिटी क्लीयरेंस, बैंक गारंटी देना जरूरी होता है. एक आॅब्जेक्टिव देगा होगा. जिसमें एयरक्राफ्ट, इंजन तथा एयरडायनेमिक्स की आधारभूत जानकारी की परख की जाती है. एसपीएल की परीक्षा पूरे देश में 23 फ्लाइंग क्लब द्वारा ली जाती है. इसके लिए करीब 1 लाख रूपए का  खर्च होते हैं. इसे पास करने के बाद स्टुडेंट पायलेट लाइसेंस दे दिया जाता है.

इसे भी पढ़े :-

प्रायवेट पायलेट लाइसेंस Private pilot license

एसपीएल के बाद पीपीएल यानी प्रायवेट पायलेट लाइसेंस प्राप्त करने के अप्लाई कर सकते हैं. इसमें प्रैक्टिकल और थ्यौरी दोनों की परीक्षा होती है. थ्यौरी टेस्ट में एयर रेगुलेशन, एक्विएशन मेट्रोलाॅजी, एयर नेविगेशन, एयरक्राफ्ट इंजन आदि के बारे में सवाल किया जाता है.

पीपील की ट्रेनिंग के दौरान 60 घंटों की उड़ाना जरूरी होता है. जिसमें पहले 15 घंटे ड्यिूल पायलेट फ्लाइट है, जो अपने फ्लाइट इंस्ट्रक्टर के साथ प्लेन को उड़ाना होता है. इसके बाद 30 घंटे सोलो फ्लाइट, जिसमें 5 घंटे या उससे अधिक का समय दूसरे देश मे जहाज उड़ाना जरूरी होता है.

इसके साथ मेडिकल टेस्ट पास सार्टिफिकेट देना होता है. यह टेस्ट आर्मर्फोस सेंट्रल मेडिकल एस्टेब्लिशमेंट (एएफसीएमई) द्वारा किया जाता है. इनमें सफल हो जाने पर पीपीएल जारी कर दिया जाता है. पीपीएल के लिए 2 से 5 लाख रूपए का खर्च आता है.

कामर्शियल पायलेट लाइसेंस Commercial pilot license

कामर्शियल पायलेट का लाइसेंस प्रायवेट पायलट लाइसेंस पाने के बाद प्राप्त किया जाता है. काॅमर्शियल पायलेट लाइसेंस के लिए पहली परीक्षा में 250 घंटे की उड़ान भरनी होती है. इसमें पीपीएल के 60 घंटे की उड़ान भी शामिल है. एक परीक्षा भी ली जाती है. जिसमें एयर रेगुलेशन, एक्विएशन मेट्रोलाॅजी, एयर नेविगेशन, एयरक्राफ्ट इंजन, टेक्निकल, प्लानिंग व रेडियो, वायरलेस ट्रांसमिशन के रूप् में कम्युनिकेशन की परीक्षा ली जाती है.

इसके साथ एक मेडिकल फिटनेस टेस्ट लिया जाता है. जो दिल्ली में होता है. सीपीएल पास कर लेने बाद काॅमर्शियल पायलेट लाइसेंस मिल जाता है. इस पूरी प्रक्रिया में 15 से 20 लाख रूपए का खर्च आता है. सीपीएल प्राप्त करने के बाद ट्रेनी को-पायलेट के रूप में काम करना होता है. इसके 6 से 8 माह बाद पायलेट के रूप में काम कर सकते हैं.

पायलेट बन जाने के बाद सरकारी या प्राइवेट दोनों एयर लाइंस कंपनियों में काम कर सकते हैं. काॅरपोरेट हाउस में प्रायवेट चार्टर्ड प्लेन उड़ा सकते हैं. इसके बाद सीनियरिटी के आधार पर पायलट फिर कमांडर, कैप्टन या सीनियर कैप्टन की पोस्ट पा सकते हैं.

इसे भी पढ़े :-

फेमस ई-काॅमर्स कंपनियों के साथ जुड कर बनें सेलर्स

 

जाॅब की संभावनाएं  Probability of jab

देश में एविएशन सेक्टर में प्रायवेटाइजेशन हो जाने से कामर्शियल पायलेट के लिए ढ़ेर सारे रास्ते खुल गए है. सरकारी (एयरइंडिया), प्रायवेट (घरेलू उड़ान/अंतरराष्ट्रीय उड़ान), हेलीकाप्टर सेवा आदि में नौकरी की तलाश कर सकते हैं. इनके अलावा आजकल राज्य सरकार के कई संस्थानों द्वारा हेलीकाप्टर व चार्टेट प्लेन लेने का चलन बढ़ा है. साथ ही बड़े उद्योगपति, बिजनेसमैन, सिलीब्रिटी में अपने विमान रखने का शैक बढ़ा है. यहां भी जाॅब की तलाश कर सकते हैं.

पायलेट के वेतन Payroll pay

  • ट्रेनी पायलट 15 से 20 हजार
  • फस्र्ट आॅफिसर जूनियर न्यूनतम 1 लाख और अधिक
  • फस्र्ट आॅफिसर सीनियर न्यूनतम 1 लाख 80 हजार और अधिक
  • कमांडर न्यूनतम 2 लाख 50 हजार और अधिक
  • इसके साथ पायलेट की मांग और उसके सीनियरटी के आधार पर वेतन का निर्धारण होता है.

 

कामर्शियल पायलेट के लिए टेªनिंग इंस्टीट्युट व फ्लाइंग क्लब के लिंक प्रमुख संस्थान

Links to Tee Nang Institute and Flying Club for Commercial Pilot Major institute

  • इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान एकेडमी, सीएसएम नगर (रायबरेली)
  • www.igrua.gov.in
  • अहमदाबाद एविएशन एंड एरोनॉटिक्स, अहमदाबाद
  • www.aaa.co.in
  • करवर एविएशन, बारामती
  • www.lvpei.org
  • चाइम्स एविएशन एकेडमी, सागर
  • www.caindia.com
  • गुजरात फ्लाइंग क्लब, वडोदरा
  • www.gujaratflyingclub.com
  • एशियाटिक इंटरनेशनल एविएशन एकेडमी, इंदौर
  • http://www.asiaticair.in/
  • इंडियन एविएशन एकेडमी मुंबई
  • http://www.iaa.edu.in/
  • प्रमाणित अकादमी चेक करे
  • http://dgca-in/licencing/fly&ind-htm
Share Button

Related posts

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.